Sharab Shayari

You know that drinking is injurious to health. Still many people drink to celebrate their success or to forget their failure. Many shayaris are based on Sharab (Alcohol). Many writers expressed their feelings on this sharab. Shayari can be created in any situation and on any topic. It is not necessary that you have to consume alcohol to express your feelings. Here is some sharab shayari that will make you addict…and definitely you are going to share with your friends… just share it now and make yourself famous as a shayari expert.
Sharab Shayari

Ishq-a-Bewafai Sharab Shayari in Hindi

1.

Gham is kadar mila ki ghabra ke pee gaye,
Khushi thodi si mili to mila ke pee gaye,
Yun to naa thi janam se peene ki aadat,
Sharab ko tanha dekha to taras khaa ke pee gaye.

गम इस कदर मिला कि घबरा कर पी गए,
ख़ुशी थोड़ी सी मिली तो मिला कर पी गए,
यूँ तो नहीं थी जनम से पीने की आदत,
शराब को तनहा देखा तो तरस खा के पी गए

2.

Ishq-a-bewafai ne daal di hai aadat buri,
Main bhi sharif hua karta tha is zamane mein,
Pehle din shuru karta tha masjid mein namaaz se,
Ab dhalti hai shaam sharab ke sath mehkhane mein.

इश्क़-आ-बेवफाई ने डाल दी है आदत बुरी,,
मैं भी शरीफ हुआ करता था इस ज़माने में,
पहले दिन शुरू करता था मस्जिद मे नमाज़ से,
अब ढलती है शाम शराब के साथ महखाने में.

3.
raat gumasoon hai magar chen khaamosh nahee,
kaise kahadoo aaj phir hosh nahee,

aisa dooba teree aakho kee gaharaee main,
haath mein jaam hai magar peene ka hosh nahee.

रात गुमसूँ है मगर चेन खामोश नही,
कैसे कहदू आज फिर होश नहीं,

ऐसा डूबा तेरी आँखों की गहराई में,
हाथ में जाम है मगर पीने का होश नहीं.

4.

Kyon Intezar Karen Kisi Mehkti Hui Shaam Ka;
Teri Nazron Se Hi Chalakta Hai Nasha Kisi Madira Ke Jaam Ka!

क्यों इंतज़ार करें किसी महकती हुई शाम का;
तेरी नज़रों से ही छलकता है नशा किसी मंदिर के जाम का!

5.
Ek jaam ulfat ke naam,
ek jaam mohabat ke naam.
Ek jaam wafa k naam,
puri botal bewafa ke naam,
Aur pura theka doston ke naam.

एक जाम उल्फ़त के नाम,
एक जाम मोहबत के नाम.
एक जाम वफ़ा के नाम,
पूरी बोतल बेवफा के नाम,
और पूरा ठेका दोस्तों के नाम.

6.
Maiqade Band Karein Laakh Zamane Wale,
Shahar Mein Kam Nahi Aankho Se Pilane Wale.

मैक़दे बंद करें लाख ज़माने वाले,
शहर में कम नहीं आँखों से पिलाने वाले

7.
Meri Tabahi Ka iljaam Ab Sharab Par Hai,
Karta Bhi Kya Aur Tum Par Jo Aa Rahi Thi Baat.

मेरी तबाही का इल्जाम अब शराब पर है,
करता भी क्या और तुम पर जो आ रही थी बात।

8.
Kahin Saagar Labalab Hain Kahin Khaali Pyale Hain,
Yeh Kaisa Daur Hai Saqi Yeh Kya Taqseem Hai Saqi.

कहीं सागर लबालब हैं कहीं खाली पियाले हैं,
यह कैसा दौर है साकी यह क्या तकसीम है साकी।

9.

Thodi Si Pee Sharaab Thodi See Uchhal Di,
Kuchh Iss Tarah Se Humne Jawaani Nikaal Di.

थोड़ी सी पी शराब थोड़ी सी उछाल दी,
कुछ इस तरह से हमने जवानी निकाल दी।

10.

Ek Jahan Maanga Tha Jisme Bahot Saara Pyar Mile,
Magar De Diya Mehkhana Jahan Bahot Saari Sharab Thi
Ek Kandha Maanga Tha Jiska Mujhe Sahara Mile,
Magar De Di Zindagi Jahan Duniya Bhar Ki Tanhai Thi.

एक जहाँ माँगा था जिसमे बहोत सारा प्यार मिले,
मगर दे दिया मेहखना जहाँ बहोत सारी शराब थी
एक कन्धा माँगा था जिसका मुझे सहारा मिले
मगर दे दी ज़िन्दगी जहाँ दुनिया भर की तन्हाई थी.

11.

Raat Chup Hai Magar Chand Khamosh Nahi,
Kaise Kahoon Aaj Phir Hosh Nahin,
Is Tarah Dooba Hoon Teri Mohabbat Ki Gahrai Mein,
Hath Mein Jaam Hai Aur Peena Ka Hosh Nahin.

रात चुप हे मगर चाँद खामोश नहीं,
कैसे कहूँ आज फिर होश नहीं,
इस तरह डूबा हूँ तेरी मोहब्बत की गहराई में,
हाथ में जाम है और पीने का होश नहीं.
.

12.

Hamesha Yad Ati Hai Unki,
Aur Mood Ho Jata Hai Kharab,
Tab Hamesha Lekar Baithe Hai Hum,
Ek Hath Me Kalam Aur Ek Hath Me Sharab.

हमेशा याद आती है उनकी,
और मूड हो जाता है ख़राब,
तब हमेशा लेकर बैठे है हम,
एक हाथ में कलम और एक हाथ में शराब.

13.

Shraab Dard Ki Dawa Hai
Peene Se Koi Khraabi Nahi
Dil Ke Dard Se Peete Hain
Waise Hum Shraabi Nahi.

शराब दर्द की दवा है
पीने से कोई खराबी नहीं
दिल के दर्द से पीते हैं
वैसे हम शराबी नहीं

14.

Tumko Mohabbat Ki Sachchai Maar Dalegi
Unko To Mohabbat Ki Gehraai Maar Dalegi
Kar Ke Mohabbat Koi Nahi Bachega Yaron
Unki Judaai Main Hame Sharab Maar Dalegi.

तुमको मोहब्बत की सच्चाई मार डालेगी
उनको तो मोहब्बत की गहराई मार डालेगी
कर के मोहब्बत कोई नहीं बचेगा यारों
उनकी जुदाई में हमें शराब मार डालेगी
.

15.

Tumko Mohabbat Ki Sachchai Maar Dalegi
Unko To Mohabbat Ki Gehraai Maar Dalegi
Kar Ke Mohabbat Koi Nahi Bachega Yaron
Unki Judaai Main Hame Sharab Maar Dalegi.

तुमको मोहब्बत की सच्चाई मार डालेगी
उनको तो मोहब्बत की गहराई मार डालेगी
कर के मोहब्बत कोई नहीं बचेगा यारों
उनकी जुदाई में हमें शराब मार डालेगी
.

16.

Tum aaj saaki bane to sahare payasa hai
Humare daur me khali gilaas na tha.

तुम आज साक़ी बने हो तो शहर प्यासा है
हमारे दौर में ख़ाली कोई गिलास न था।
.

Sharab Shayari in Hindi Images

galib se unke dost se kaha

Download

Sharab se mera kai baar

Download

Sharab Shayari Image 1

Download

Sharabi Shayari Image 3

Download

tohin na kar sharab ki kadwa khe ke

Download

janne de ab maikhane seDownload

kash hume bhi koi samjhane walaDownload

ye apna dil bhiDownload

 

Comments

comments

READ MORE  CHAHAT, LOVE SHAYARI